(1200/- Rs.) उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना 2022, एप्लीकेशन प्रोसेस | UP DBT Student Yojana

UP CM DBT Yojana 2022 Online Apply | उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Uttar Pradesh Direct Benefit Transfer Yojana | उत्तर प्रदेश छात्र 1200 रुपये DBT योजना

दोस्तों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के माध्यम से राज्य के छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना को जारी किया गया है जिसके द्वारा से स्कूली बच्चों को शिक्षण सामग्री उपलब्ध करवाने के लिए आर्थिक मदद डीबीटी (प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण) के माध्यम से अभिभावकों के बैंक खातों में ट्रांसफर की जाती है। UP DBT Student Yojana 2022 से माता-पिता को अब बच्चों की पढ़ाई में होने वाले खर्चे की चिंता नहीं रहेगी। तो आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के द्वारा से इस योजना से संबंधित सभी जानकारी को प्रदान करेंगे तथा आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

UP DBT Student Yojana 2022

भाइयों यूपी डीबीटी योजना को उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा से राज्य में पढ़ रहे स्कूली बच्चों के कल्याण के लिए आरंभ किया गया है इस योजना के अंतर्गत बच्चों को ड्रेस, स्वेटर, बैग, जूता-मोजा एवं स्टेशन आदि के लिए 1200-1200 रुपए के रूप में आर्थिक मदद दी जाएगी। UP CM DBT Yojana के जरिए से मिलने वाली ये राशि बच्चों के अभिभावकों के बैंक खाते में DBT मोड के द्वारा स्थानांतरित की जाएगी। इस योजना से जो अभिभावक अपने बच्चों को शिक्षण सामग्री खरीदने में असमर्थ थे। अब इस योजना से उन्हें काफी राहत मिलेगी। क्योंकि बच्चों के पहनावे से लेकर स्टेशनरी तक की सुविधा सरकार के माध्यम से पूरी की जाएगी। इस सुविधा से बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने में सहायता मिलेगी और उनका ध्यान पढ़ाई की तरफ ही रहेगा।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना 2022 हाइलाइट्स

योजना का नामउत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना
किसके माध्यम से आरंभ की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के माध्यम
लाभार्थीराज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राएं
प्रदान की जाने वाली सहायताशिक्षण सामग्री खरीदने के लिए आर्थिक मदद प्रदान करना
लाभ राशि1200/- रुपये
आधिकारिक वेबसाइटजल्द आरम्भ की जायेगी

यूपी फ्री स्कूटी योजना

UP Direct Benefits Transfer Yojana Objective (उद्देश्य)

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना का प्रमुख उद्देश्य है कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को स्कूल की वर्दी, सही जूते, स्वेटर, बैग एवं स्टेशनरी का सामान खरीदने के लिए सरकार के माध्यम से आर्थिक मदद उपलब्ध करवाना है। इस योजना से उन छात्रों को लाभांवित करना है जो अपने अभिभावकों की वित्तीय अस्थिरता के कारण स्कूल के लिए उचित कपड़े नहीं पहन सकते हैं। और यही इस योजना को आरंभ करने का प्रमुख उद्देश्य हैं।

UP DBT Yojana से कितने बच्चे लाभान्वित होंगे

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना के पहले चरण में जिले के परिषदीय स्कूलों के 1,43,592 छात्र-छात्राओं के अभिभावकों के खाते में 17 करोड़, 23 लाख 10 हजार 800 रुपये की धनराशि भेजी गई है इस योजना से करीब-करीब 2.33 लाख से ज्यादा बच्चे लाभान्वित होंगे।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना के लाभ (Benefits)

  • इस योजना का फायदा राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को मिलेगा।
  • UP Mukhyamantri DBT Yojana के माध्यम से बच्चों को स्कूली सामान खरीदने के लिए सरकार के माध्यम से आर्थिक मदद की जाएगी।
  • जिसमें से छात्र-छात्राओं को ड्रेस, स्वेटर, बैग, जूता-मोजा व स्टेशनरी आदि खरीदने के लिए 1200/- रुपये की आर्थिक सहायता की जाएगी।
  • यह आर्थिक सहायता पात्र छात्रों के माता-पिता के बैंक खाते में जमा की जाएगी।
  • इस योजना से अब अभिभावक अपने बच्चों को अच्छे से तैयार करके स्कूल भेजेंगे।
  • उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना उन अभिभावकों के लिए कारगर साबित होगी।
  • जिनके पास अपने बच्चों के लिए शिक्षण सामग्री खरीदने के लिए पैसे नहीं है।
  • इस योजना से ऐसे सभी परिवार वालों को कवर किया जाएगा।
  • यह योजना से बच्चों का रुझान पढ़ाई की तरफ ज्यादा रहेगा।
  • इस योजना से सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों की तरह विकसित किया जाएगा।

RTE UP Admission

UP DBT Yojana की मुख्य विशेषताएं

  • सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को स्कूली सामान खरीदने के लिए सरकार के माध्यम से आर्थिक मदद प्रदान करना।
  • राज्य में शिक्षा का विस्तार करना।
  • गरीब बच्चों को स्कूल आने के लिए प्रेरित करना।
  • सरकारी स्कूलों को आधुनिक रूप से विकसित करना।
  • पात्र छात्रों को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना।

UP DBT Student Yojana के मुख्य पहलू

  • अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी द्वारा DBT योजना की शुरुआत की गई है।
  • इस योजना के तहत पैसा सीधे माता-पिता या अभिभावक के खाते में भेजा जाता है।
  • ताकि वह स्कूल की वर्दी, सही जूते, स्वेटर, बैग एवं स्टेशनरी का सामान जैसे पेन, पेंसिल आदि खरीद सकें।
  • इस कार्यक्रम के तहत छात्रों के अभिभावकों के बैंक खाते में सीधे कुल 1200 रुपये जमा किए जाते हैं।
  • अब तक प्रदेश में तकरीबन 8050 स्कूलों को गोद लिया जा चुका है।
  • 2022-23 शिक्षण वर्ष में पहली से आठवीं तक के लिए 1.91 करोड़ बच्चों का नामांकन किया गया है।

यूपी मुख्यमंत्री डीबीटी योजना के तहत मिलने वाली शिक्षण सामग्री

  • 2 यूनिफार्म के लिए 600 रुपये
  • स्वेटर के लिए 200 रुपये
  • जूते मोजे के लिए 125 रुपये
  • स्कूल बैग के लिए 175 रुपये
  • स्टेशनरी के लिए 100 रुपये

UP Free Laptop Yojana

UP Mukhyamantri DBT Yojana Eligibilities (पात्रता)

  • आवेदक को उत्तर प्रदेश राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।
  • लाभार्थी सरकारी स्कूल में पढ़ने वाला विद्यार्थी होना चाहिए।
  • विद्यार्थी के अभिभावक के पास स्थाई बैंक खाता होना चाहिए।

Important Documents (आवश्यक दस्तावेज)

  • आधार कार्ड
  • स्थाई प्रमाण पत्र
  • सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले छात्र का आईडी कार्ड
  • अभिभावक का बैंक खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

DBT Yojana का मकसद

  • सरकारी योजनाओं के फर्जी लाभार्थियों की पहचान
  • भुगतान में होने वाली देरी से निजात
  • संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल

CM Yogi Helpline Number

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री डीबीटी योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करें?

  • भाइयों जो आवेदक योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं।
  • तो उन्हें थोड़ा इंतजार करना होगा।
  • क्योंकि अभी सिर्फ योजना की शुरुआत की गई है।
  • आवेदन करने के लिए ऑफिशल वेबसाइट अभी शुरू नहीं की गई है।
  • वेबसाइट के शुरू होने के पश्चात ही आप आवेदन कर सकते हैं।
  • जिसकी जानकारी हम आपको आर्टिकल के माध्यम से प्रदान करेंगे।
  • तथा आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल्स जुड़े रहे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के शब्द

योजना को शुरू करते हुए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि शैक्षणिक संस्थानों में उतनी ही पवित्रता बनाए रखें जितनी आप धार्मिक संस्थानों में रखते हैं यह वही है जो हम अपने मूल में हैं हर एक व्यक्ति का अपने विद्यालय से अध्यात्मिक जुड़ाव होना चाहिए। जो उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.