[ऑनलाइन पंजीकरण] गुजरात विकलांग पेंशन योजना 2020 | विकलांग पेंशन सूची

दोस्तों गुजरात सरकार द्वारा राज्य के सभी विकलांग नागरिको के लिए “गुजरात विकलांग पेंशन योजना[ Gujarat Viklang Pension Yojana ] नाम से एक सरकारी योजना की शरूआत की गयी है इस योजना में गुजरात सरकार राज्य के सभी विकलांग नागरिको को उनकी आर्थिक स्थिति को सुधारने हेतु वित्तीय सहायता उपलब्ध कराएगी। इस विकलांग पेंशन योजना के अंतर्गत गुजरात सरकार सभी पात्र लाभार्थियों को हर महीने पेंशन के रूप में 600/- रूपये की धनराशी प्रदान करेगी ताकि उनको अपना जीवनयापन करने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी न हो। गुजरात विकलांग पेंशन योजना के आवेदन की प्रकिया नीचे लेख में दी गयी है।

Gujarat Viklang Pension Yojana 2020

गुजरात सरकार द्वारा “गुजरात विकलांग पेंशन योजना” को शरू करने का उद्देश्य विकलांगजनो को आर्थिक मदद प्रदान करना है। इस योजना के चलते राज्य के सभी विकलांग लोगो को अधिक से अधिक वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जाएगी जिससे की उन्हें भविष्य में अन्य किसी भी व्यक्ति पर निर्भर रहने की आवश्यकता न पड़े। आरक्षण प्राप्त होने के बावजूद विकलांग लोगो को आसानी से नौकरी नहीं मिलती है इसके परिणामस्वरूप वे पैसे कमाने में सक्षम नहीं होते।  इसलिए सरकार की Gujarat Viklang Pension Yojana 2020 के अंतर्गत विकलांग नागरिको के खर्चे हेतु हर महीने पेंशन के रूप में 600/- रूपये की धनराशी सरकारी कोक्ष से उपलब्ध कराई जाएगी।

विकलांग पेंशन योजना गुजरात 2020 की प्रमुख विशेषताएं

  • गुजरात सरकार द्वारा शरू की गयी है अत इस योजना का लाभ केवल गुजरात के विकलांगजन ही ले सकते है।
  • विकलांग पेंशन योजना का उद्देश्य राज्य के विकलांग लोगों की वित्तीय स्थिति में सुधार करना है।
  • गुजरात सरकार की विकलांग पेंशन योजना से राज्य के लगभग 40% से अधिक विकलांगजन लाभ प्राप्त करेंगे।
  • इस पेंशन योजना के तहत राज्य सरकार विकलांगजनो को हर महीने 600 / – रुपये की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराएगी।

विकलांग पेंशन योजना गुजरात 2020 पात्रता मानदंड

  • गुजरात विकलांग पेंशन योजना का लाभ लेने हेतु गुजरात राज्य के स्थायी निवासी ही पात्र है अत केवल गुजरात राज्य के विकलांग ही इस आवेदन कर सकते है।
  • गुजरात सरकार की विकलांग पेंशन योजना के लिए आवेदन हेतु आवेदक के पास  प्राधिकरण से विकलांगता प्रमाणपत्र होना आवश्यक है।
  • विकलांग पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति को खुद को पंजीकृत करना आवश्यक होगा।
  • विकलांग पेंशन योजना के लिए पात्रता हेतु विकलांग व्यक्ति अथवा स्त्री का 40% से अधिक शारीरिक रूप से अक्षम होना आवश्यक है।

Viklang Pension Scheme 2020 हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड।
  • आयु प्रमाण।
  • निवासी प्रमाण।
  • पहचान प्रमाण यदि उपलब्ध हो
  • हस्ताक्षर
  • बैंक खाता।
  • विकलांगता प्रमाण पत्र।
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर।

गुजरात विकलांग पेंशन योजना 2020 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

  • सभी इच्छुक व्यक्ति जो इस Gujarat Viklang Pension Yojana 2020 का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें पहले इस योजना के लिए आवेदन करना होगा। सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसका लिंक नीचे तालिका में दे दिया जायेगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आपको पेंशन स्कीम पंजीकरण के लिंक पर क्लिक करना होगा जिसके बाद एक नया पेज खुल जायेगा।
  • यहाँ आपको अपनी सभी सम्बंधित जानकारी देकर आवेदन पत्र भरना होगा।
  • इसके बाद आप सम्बंधित दस्तावेज संलग्न कर कैप्चा कोड दर्ज करने के पश्चात् सबमिट ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • आप भविष्य के लिए अपने आवेदन फॉर्म की आवेदन फॉर्म नंबर या संदर्भ संख्या अथवा एक कॉपी ले सकते है।

गुजरात विकलांग पेंशन योजना 2020 के बारे में अभी के लिए यही जानकारी प्राप्त है। योजना के बारे में कोई भी जांच आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से की जा सकती है आप योजना के बारे में हमसे कमेंट कर जानकरी ले सकते है।

महत्वपूर्ण लिंक्स –

हमें उम्मीद करते है की आपको यह जानकारी जरूर लाभदायक लगी होगी। कृपया इस पोस्ट को ज्यादा-ज्यादा शेयर करे ताकि लोगो को सरकार की योजनाओ की जानकारों हो सके। आप हमारे फेसबुक पेज पर भी हमें फॉलो कर सकते है।

केंद्र तथा राज्य सरकार की योजनाओ की नियमित जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट cmhelpline.in पर जा सकते है।

Updated: February 3, 2020 — 4:39 pm

3 Comments

Add a Comment
  1. I am resident of Ahmedabad, Gujarat having 60% Disability. I am not getting link through that I can add my name in pension for Disabled person. Kindly help me how can I add my name in that list and can receive benefit out of it.

  2. bhadja bharat premjibhai

    we are both person handicapped one is 75% and other is 85% pension yojana nu form bharva mate ni mahi ti aapava vinanti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *