Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2023: सूखाड़ राहत योजना ऑनलाइन आवेदन msry.jharkhand.gov.in

Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana Online Registration | Jharkhand Sukhad Rahat Yojana @msry.jharkhand.gov.in | झारखंड मुख्यमंत्री सूखाड़ राहत योजना | Sukhad Rahat Yojana पात्रता व मुआवजा राशि के बारे में जानें

हम सभी जानते है सूखा पड़ने पर किसानो को बहुत सी समस्या का सामना करना पड़ जाता है| इस समस्या के चलते किसानो की आर्थिक स्थिति पर भी गहरा प्रभाव पड़ता है| इस प्रकार की समस्याओ का समाधान निकालते हुए झारखण्ड की सरकार दुवारा मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना का संचालन किया है| इस योजना के माध्यम से झारखण्ड के उन सभी किसान को 3500 रूपये  की धनराशि प्रदान की जायगी जिनकी फसल सूखा पड़ने पर नष्ट हो गई है| सरकार की तरफ से योजना का लाभ लगभग 30 लाख किसान परिवारों को सहायता के रूप में प्रदान किया जायगा|

यदि आप सब भी झारखण्ड के कसानो में से एक और Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2023 का लाभ लेना चाहते है तो हमारे इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़े और योजना का लाभ प्राप्त करे |

Table of Contents

Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2023

झारखण्ड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के दुवारा राज्य के किसानों को सूखे से होने वाले नुकसान से बचाने के लिए मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को शुरू किया गया है| इस योजना का लाभ राज्य के 22 जिलों के 226 परखंडो में प्रदान किया जायगा जो की सूखे की चपेट में है| झारखण्ड के 30 लाख से अधिक किसानो की फसल सूखे के कारण नष्ट होती जा रही है| सरकार की तरफ से इन सभी किसान के परिवारों को 3500 रूपये की धनराशि मुहया कराई जायगी| Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana के माध्यम से झारखण्ड के सूखे की मार झेलने वाले किसानो को मुआवज़ा दिया जायगा| इस मुआवज़ा को प्राप्त कर किसान अपनी ज़रूरतों को पूरा कर पायगे |

प्रदेश के किसानों तक योजना का लाभ पहुंचाने के लिए पंचायत वार शिविरों का आयोजन किया जाएगा। सरकार ने इस योजना के तहत ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन प्रक्रिया रखी है। लेकिन किसानों को आवेदन करने से पहले अपना ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य है जभी उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाएगा वरना नहीं।

आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम

Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana

31 जनवरी तक किया जाएगा आवेदनों का सत्यापन

लाभार्थियों को मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत शत प्रतिशत लाभ प्रदान करने का निर्देश जारी कर दिए गए हैं। उपायुक्त रमेश घोलाप की अध्यक्षता में अनुमंडल पदाधिकारियों, जिला कल्याण पदाधिकारी और अंचल अधिकारियों के साथ हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस योजना की समीक्षा की गई है। जिसमें कैटेगरी ‘A’ और ‘C’ के तहत आने वाले किसानों की सूची का शत प्रतिशत सत्यापन करते हुए 31 जनवरी 2023 तक भुगतान प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश जारी किए गए हैं। कैटेगरी A के तहत आवेदन करने वाले किसानों की 33% फसल का नुकसान हुआ है। इन किसानों के आवेदन का सत्यापन करने के बाद 5 दिनों के भीतर भुगतान प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं। सरकार को इस योजना के तहत कैटेगर A के तहत 1 लाख 35 हजार ऑनलाइन आवेदन प्राप्त हुए हैं। इन आवेदनों में से 13 हजार 942 आवेदनों को अस्वीकृत किया गया है और 9136 आवेदनों को कागजात मिसिंग होने की वजह से सुधार के लिए वापस किया गया है।

झारखंड सुखाड़ राहत योजना के तहत प्राप्त आवेदनों का विवरण

इस योजना के तहत अब तक प्राप्त हुए आवेदनों का विवरण निम्नलिखित प्रकार है।

  • प्राप्त हुए आवेदनों की संख्या- 31,52,943

Note- आवेदक किसानों का प्रकार (जिन्होंने इस वर्ष बुवाई नहीं किया है- 16,37,885, जिनकी फसल क्षति 33% से अधिक है- 9,98,714, भूमिहीन कृषक मजदूर- 5,16,344)

सुखाड़ राहत योजना के तहत किसानों को 890 करोड रुपए किए गए ट्रांसफर

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सरकार ने गुरुवार के दिन अपनी सरकार के 3 साल पूरे होने के मौके पर प्रोजेक्ट भवन सभागार में राजकीय समारोह को आयोजित किया था। इस समारोह में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा सुखाड़ राहत योजना के तहत 890 करोड़ रुपए की धनराशि लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में DBT के माध्यम से हस्तांतरित की गई है। कुछ लाभुकों को मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर अपने हाथों से योजनाओं का लाभ भी प्रदान किया है। साथ ही मुख्यमंत्री जी ने विभिन्न जिलों के लाभार्थी किसानों के साथ ऑनलाइन बातचीत भी की है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हमारी सरकार के 3 वर्ष पूरे हो रहे हैं। इस दौरान हमने कई उतार-चढ़ाव देखे। पिछले 20 वर्षों में झारखंड अलग राज्य बनने के बाद किसी भी सरकार को ऐसी चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़ा जैसा कि हमारी सरकार को करना पड़ा। और कहा कि झारखंड को विकसित और समृद्ध राज्य बनाना है। सरकार जिस सोच और उद्देश्य के साथ काम कर रही है उससे यहां के लोग भी वृद्धि करेंगे और राज्य भी आगे बढ़ेगा।

(District Wise) Mukhymantri Sukhd Rahat Yojana List

झारखंड के उन जिलों के नाम जिनकी सरकार ने मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत  अभी तक लिस्ट जारी की है। उनका विवरण नीचे सारणी अनुसार इस प्रकार है।

पाकुड़खुटी
हजारीबागरामगढ़
सिमडेगासाहिबगंज
सराइकेला खरसावाँरांची
लोहरदग्गालातेहार
बोकारोपलामू
धनबादगोड्डा
दुमकादेवघर
चतराजामताड़ा
गिरीडीहगुमला
गढवाकोडरमा

सुखाड़ राहत योजना पोर्टल पर जारी रहेगा रजिस्ट्रेशन

झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख जी ने बताया है कि सुखाड़ से प्रभावित अंतिम किसानों को जब तक सुखाड़ राहत योजना 2022 का लाभ नहीं मिल जाता, तब तक मुख्यमंत्री सुखाड़ योजना पोर्टल पर किसानों का रजिस्ट्रेशन जारी रहेगा। सरकार द्वारा भूमि दस्तावेजों के सत्यापन में तेजी लाने के लिए सभी दिशा निर्देश भी अधिकारियों को दे दिए गए हैं। राज्य की हेमंत सोरेन सरकार किसानों के आर्थिक स्वावलंबन के लिए कटिबद्ध है। सरकार इस योजना के तहत राज्य के सूखे से प्रभावित किसानों के आवेदन लगातार प्राप्त कर रही है। साथ ही सरकार का कहना है कि वे तब तक किसानों के आवेदन प्राप्त करेगी जब तक सभी पात्र किसान इस योजना के तहत रजिस्टर्ड नहीं हो जाते हैं।

पोर्टल पर 17 लाख से भी अधिक किसान करा चुके हैं अपना पंजीकरण

Sukhad Rahat Yojana Jharkhand के तहत अब तक 17 लाख 50 हजार 814 पात्र किसानों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवा दिया है। इनमें से 9,13,410 किसान ऐसे ही जिन्होंने अभी तक बुवाई नहीं की है। इसके अलावा 6,69,007 किसान ऐसे हैं जिनकी फसल क्षति 33% से अधिक है और 1 लाख 68 हजार 397 भूमिहीन कृषक मजदूरों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। इस योजना के तहत सबसे अधिक पलामू, देवघर और गढ़वा के किसानों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है। अभी राज्य में कुछ ओर पात्र किसान है जिनका रजिस्ट्रेशन होना है। इसलिए इस योजना के तहत पोर्टल पर तब तक रजिस्ट्रेशन किए जाएंगे जब तक सभी पात्र किसानों का रजिस्ट्रेशन नहीं हो जाता है।

सूखाड़ राहत योजना की न्यू अपडेट

Sukhad Rahat Yojana के तहत पूरे प्रदेश में 7 लाख 20 हजार 834 किसानों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवा लिया है। जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि झारखंड के 22 जिलों को राज्य सरकार ने सूखा घोषित किया था। इन्हीं प्रभावित जिलों के किसानों को इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए कहा गया था। इस योजना के तहत देवघर के किसान रजिस्ट्रेशन करवाने पर अव्वल नंबर पर है। देवघर के 1 लाख 2 हजार 134 किसानों ने इस योजना के तहत रजिस्ट्रर्ड हो चुके हैं। इस सूची में दूसरे नंबर पर गिरिडीह और तीसरे नंबर पर पलामू जिला है, कोडरमा अंतिम पायदान पर है| आपको बता दें कि यह आंकड़ा 4 दिसंबर तक का है। इस योजना के तहत किसान 15 दिसंबर तक अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है।

15 दिसंबर तक बढ़ी मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आवेदन तिथि

झारखंड राज्य के चंदावा क्षेत्र के कामता पंचायत समिति सदस्य अयूब खान ने बताया है कि मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आवेदन तिथि को आगे बढ़ा दिया गया है। अब किसान 15 दिसंबर 2022 तक इस योजना के तहत अपना आवेदन कर सकते हैं। सरकार ने आवेदन की तिथि को आगे इसलिए बढ़ाया है क्योंकि सर्वर डाउन रहने की वजह से कुछ किसान ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पा रहे हैं और उन्हें घंटों इंतजार करने के बाद लौटना पड़ रहा है। अब तक जो किसान अपना रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाए थे। वह आसानी से 15 दिसंबर तक अपना आवेदन रजिस्टर्ड करवा सकेंगे और ई-केवाईसी करवा सकेंगे।

Sukhad Rahat Yojana का आवेदन फॉर्म भरते समय किसान प्रज्ञा केंद्रों को ना दे ₹40

कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने शनिवार को बताया है Sukhad Rahat Yojana के लाभार्थी किसान अपना आवेदन फॉर्म भरते समय प्रज्ञा केंद्रों को ₹40 ना दे। किसानों को अभी तक अपना रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए प्रज्ञा केंद्रों को ₹40 देने पड़ते थे लेकिन अब राज्य सरकार इस राशि की अदायगी करेगी। इसलिए अब राज्य के लाभार्थी किसानों को अपना रजिस्ट्रेशन करवाते समय किसी भी तरह का कोई शुल्क अदा करने की आवश्यकता नहीं है। अब किसान प्रज्ञा केंद्रों पर जाकर अपना निशुल्क आवेदन करवा सकते हैं। इसके अलावा राज्य के जिलों के कृषि अफसर उन प्रखंडों में जाकर इस योजना और अन्य योजनाओं का प्रचार करेंगे, जहां पर अभी तक किसान कृषि योजनाओं का लाभ नहीं ले पाए हैं।

Highlights of Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2023 

योजना का नामMukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2023
आरंभ की गईलाभार्थी
उद्देश्यफसल नुकसान होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करना
राज्यझारखंड
लाभार्थीझारखंड के किसान परिवार
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
विभागकृषि विभाग
आधिकारिक वेबसाइटhttps://msry.jharkhand.gov.in/

लैंड पजेशन सर्टिफिकेट की बाध्यता को किया गया खत्म

झारखण्ड के हर किसान परिवार या खेतिहर मजदूरों जो राशन कार्ड धारी है उन्हें इस योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा। विभागीय सचिव ने बताया है कि इस योजना के लिए जिन दस्तावेजों को अपलोड किया जाता है उनमें से एक लैंड पजेशन सर्टिफिकेट की बाध्यता को खत्म कर दिया गया है। अब जिनका नाम राशन कार्ड में दर्ज है उन सभी किसान परिवारों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत झारखंड सरकार ने केंद्र सरकार की आर्थिक मदद के लिए मेमोरंडम ऑफ फाइनेंस समर्पित किया है। झारखंड सरकार ने केंद्र से मेमोरेंडम ऑफ फाइनेंस के तहत 9682 करोड़ रुपए की राहत सहायता की मांग की थी।

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखण्ड का उद्देश्य

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2022 को आरम्भ करने का उद्देश्य झारखण्ड के किसानो का सूखा पड़ने पर हुए फसल के नुक्सान में आर्थिक सहायता प्रदान करना है | जैसा की आप सभी जानते है बहुत से राज्यों में सूखा पड़ने पर किसानो की साल भर की मेहनत की हुई फसल का अधिकतर नष्ट होता चला आया है | ये समस्या का भार किसानो के परिवार की आर्थिक स्थिति पर पड़ जाता है| ये सभी समस्याओ का उपाए निकालते हुए मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखण्ड का आरम्भ किया गया है| इस योजना के अंतर्गत राज्य के  आस पास के सभी जिलों में इस योजना का लाभ प्रदान किया जायगा | झारखण्ड में सूखा पड़ने पर हुई फसल के नष्ट से किसानो को राहत दिलाई जायगी|

इसी के साथ किसानो की आर्थिक स्थिति में भी सुधार लाया जायगा| राज्य के किसानों को सूखा राहत हेतु 3500 रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी। जल्द ही प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए गांव और पंचायत स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे।

(रजिस्ट्रेशन) झारखण्ड गुरुजी क्रेडिट कार्ड योजना

Jharkhand Sukhad Rahat Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  •  झारखण्ड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के दुवारा मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को शुरू किया गया है |
  • सूखे की स्थिति को देखते हुए 22 जिलों के 226 प्रखंडों के प्रति किसान परिवार को मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत तत्काल सूखा राहत हेतु 3500 रुपए की धन राशि दी जायगी और यह राशि उन्हें मुआवजे के रूप में दी जाएगी।
  • किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल पर नुकसान होने की स्थिति में आर्थिक सहायतामुहया कराई जायगी |
  • प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए गांव और पंचायत स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे।
  •  Jharkhand Sukhad Rahat Yojana 2023 के अंतर्गत राज्य के आस पास के सभी जिलों में इस योजना का लाभ प्रदान किया जायगा |
  • राज्य के किसानों को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जा सके।
  • झारखण्ड सुखाड़ राहत योजना के माध्यम से झारखण्ड के किसान आत्मनिर्भर और सशक्त बन पायगे |
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको सबसे पहले पंजीकरण करवाना है तभी आपको योजना का पात्र माना जायगा |
  • किसान भाई अपनी फसल को सही मात्रा में ऊगा पाए और समय समय फसल में आने वाली सभी ज़रूरतों को को आसानी से पूरा कर पाए |

Sukhad Rahat Yojana Jharkhand के लिए पात्रता

  • योजना का लाभ लेने वाले केवल राज्य के किसान ही पात्र माने जायगे |
  • राज्य के सभी किसान इस योजना के पात्र होंगे जो पहले से किसी अन्य बीमा योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं।
  • झारखण्ड सुखाड़ राहत योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थी झारखण्ड के मूलनिवासी होना अनिवार्य है|

जरूरी दस्तावेज

  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • किसान आईडी कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • खेत का खाता नंबर
  • खसरा नंबर

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत पंजीकरण करने की प्रक्रिया

  • पहले आपको मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आएगा|
मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत पंजीकरण करे
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको पंजीकरण करें के ऑप्शन पर क्लिक करना हैं।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana का पंजीकरण फॉर्म भरे
  • इस पेज पर आपको यूजरनेम और ईमेल आईडी एवं पासवर्ड दर्ज करनी है |
  • अब आप को दिया गया कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अंत में आपको SIGN IN के ऑप्शन पर क्लिक करना   है |
  • इस प्रकार मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने की प्रक्रिया पूरी होती है 

सुखाड़ राहत योजना के तहत लॉगिन कैसे करें?

  • किसान भाई को सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपको आवेदक लॉगइन करें के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक लॉगइन पेज खुलकर आ जाएगा।
मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत लॉगिन करें
  • इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • सभी जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको Login के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार से आप मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत लॉगइन कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना लिस्ट में नाम कैसे चेक करें?

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना लिस्ट
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको Beneficiary List का ऑप्शन दिखाई देगा। जिस पर आपको क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी जैसे आपका रजिस्ट्रेशन नंबर, जिला एवं ग्राम आदि दर्ज करना है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करते ही आपके सामने लाभार्थियों की लिस्ट आ जाएगी।
  • इस लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं।

Mukhyamantri Sukhad Rahat Yojana e-KYC कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी लगे मुख्यमंत्री सूखाड़ राहत योजना के कैंप पर जाना है।
  • इसके बाद आपको वहां पर बैठे अधिकारी से संपर्क करना है और अपने सभी आवश्यक दस्तावेज देने हैं।
  • फिर अधिकारी द्वारा आपके सभी दस्तावेज ले लिए जाएंगे और ‌आपका ईकेवाईसी कर दिया जाएगा।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना e-kYC कर सकते हैं।

संपर्क विवरण

यदि किसानों को सूखाड़ राहत योजना से जुड़ी कोई समस्या आ रही है तो वह नीचे दिए गए किसान कॉल सेंटर पर संपर्क करके अपनी समस्या का निवारण कर सकते हैं।

किसान कॉल सेंटर नंबर- 18001231136

Updated: February 7, 2023 — 10:30 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *