मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना 2023 ऑनलाइन आवेदन: एप्लीकेशन फॉर्म, लाभ व पात्रता

Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana Application Form, छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, पंजीकरण फार्म, पात्रता एवं लाभ जाने

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के दुवारा 18 दिसंबर को गौरव दिवस के अवसर पर राज्य में पेड़ो का व्यावसायिक उपयोग को अधिक बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को आरम्भ करने एलान किया है | सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से निजी भूमि पर वृक्षारोपण को प्रोत्साहन देकर काष्ठ आधारित उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा। इस योजना के आरम्भ से किसानो की आय भी दोगुना बढ़ जायगी | इसी के साथ बेरोज़गार युवाओ को रोज़गार का साधन भी प्राप्त हो जायगा | सरकार का मानना है की समृद्ध बनाने के लिए राज्य में पेड़ पोधो को लगाना बहुत जरुरी है | इसलिए राज्य के सभी किसान और अन्य नागरिक भी अपनी ज़मीनो पर पेड़ पौधे उगाए | Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana 2023 से सम्बंधित महत्वपुर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे लेख से बने रहे |

Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana 2023

जैसा की हम सभी जानते है की छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने अब तक किसानो की आय दोगुना बढ़ाने के लिए बहुत सी लाभकारी योजनाओ का संचालन किया है| अब उन्होंने हाल ही में मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना का शुभारम्भ किया है| इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार दुवारा 5 साल के भीतर 2 लाख एकड़ निजी भूमि पर इमारती व औषधीय वृक्ष तैयार करने का लक्ष्य रक्खा गया है |

वृक्ष संपदा योजना के तहत निजी भूमि पर पौधे के रोपण के लिए 50 प्रतिशत सब्सिडी भी प्रदान की जायगी | इसी के साथ साथ किसानो को 3 वर्ष तक प्रति एकड़ 10 हज़ार रूपये का बोनस भी उपलब्ध कराया जायगा | इसके अलावा इस योजना के तहत पेड़ तैयार होने पर किसानों के पेड़ों की लकड़ी, छाल आदि बिकवाने की गारंटी भी सरकार की होगी। Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana के माध्यम से निजी भूमि पर वृक्षारोपण को प्रोत्साहन देकर काष्ठ आधारित उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा। इस योजना के माध्यम से किसानो तथा अन्य नागरिको को रोज़गार मिल पाएगा|

CG Token Tunhar Hath Mobile App Registration

Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana

Highlights of मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना  

योजना का नामMukhyamantri Vriksh Sampada Yojana
शुरू की गईमुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा
राज्यछत्तीसगढ़
लाभार्थीराज्य के नागरिक
उद्देश्यनिजी भूमि पर पौधारोपण को बढ़ावा देना आय व रोजगार के अवसर को बढ़ाना
लाभ50% सब्सिडी और प्रति एकड़ 10 हजार रुपए बोनस
आवेदन प्रक्रियाOfline
अधिकारिक वेबसाइटउपलब्ध नहीं है |

Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana का उद्देश्य

छत्तीसगढ़ सरकार दुवारा मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को आरम्भ करने का उद्देश्य निजी भूमि पर पौधारोपण को प्रोत्साहन देकर आधारित उद्योगों को बढ़ावा देना, किसानों की आय में वृद्धि करना, रोजगार के अवसर को बढ़ाना और जंगलों पर दबाव कम करना है। योजना के माध्यम से किसानों को वृक्षारोपण के लिए 50% सब्सिडी प्रदान की जाएगी। किसानों द्वारा तैयार की गई पेड़ों की लकड़ी छाल बिकवाने व निर्यात के लिए राज्य सरकार द्वारा वन विभाग देश-विदेश की कंपनियों के साथ मिलकर किसानों से एमओयू करेगा। इस योजना के माध्यम से वृक्ष सुरक्षित रह पायगे और वृक्ष की ज़्यादा उत्पत्ति भी हो पाएगी | जिससे की किसान पेड़ की लकड़ियां चाल आदि बेच कर आय भी बढ़ा पाएगे | राज्य में ज़्यादा हरियाली भी हो पाएगी जिससे पर्यावरण भी सुरक्षित रह पाएगा और बीमारियां भी कम हो पाएगी |

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना

100 करोड़ों रुपए के बजट का प्रावधान

राज्य के नागरिकों को टिश्यू कल्चर पद्धति के आधार पर सागौन, शीशम, बांस, ग्राफ्टेड, आंवला, चंदन जैसी इमरती व महंगी लकड़ियों वाले पेड़ों के पौधे लगाने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा। इस योजना का सफलतापूर्वक प्रावधान करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार दुवारा अभी सिर्फ 10 लाख रूपये का बजट निर्धारत करने का एलान किया गया है | सरकार द्वारा 50% सब्सिडी किसानों को पौधों के रोपण के लिए दी जाएगी और इसके अलावा 3 वर्ष तक प्रति एकड़ 10,000 रूपए बोनस भी देगी। अगर कोई किसान इस योजना के तहत अपनी एक एकड़ भूमि पर एक लाख रुपए खर्च करके पौधे लगाता है तो उस सदस्य को सरकार दुवारा 1 लाख रूपये की सब्सिडी भी उपलब्ध कराई जायगी | जिसका इस्तेमाल कर वह अपना पौधे उत्पादन का रोज़गार अधिक कर पाए|

मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • छत्तीसगढ़ सरकार ने 18 दिसंबर को मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को आरम्भ करने की घोषणा की है |
  • अपनी निजी भूमि पर व्यवसायिक वृक्षारोपण करने के लिए एवं प्रोत्साहित करने के लिए मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना को शुरू किया गया है।
  • राज्य के निवासियों को लकड़ी का उपयोग करने के लिए सरकार द्वारा प्रेरित किया जाएगा। जिससे किसानों को पेड़ों से ही आय प्राप्त हो सकेगी।
  • वृक्ष संपदा योजना के माध्यम से वृक्ष संबधित उत्पादों को अधिक बढ़ाव दिया जायगा |
  • योजना के माध्यम से किसानों को वृक्षारोपण के लिए 50% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  •  किसानों द्वारा तैयार की गई पेड़ों की लकड़ी छाल बिकवाने व निर्यात के लिए राज्य सरकार द्वारा वन विभाग देश-विदेश की कंपनियों के साथ मिलकर किसानों से एमओयू करेगा।
  •  3 वर्ष तक प्रति एकड़ 10,000 रूपए बोनस भी देगी।
  •  इस योजना का मुख्य लक्ष्य किसानों की आय में वृद्धि करना, रोजगार के अवसर को बढ़ाना और जंगलों पर दबाव कम करना है।
  • राज्य में ज़्यादा हरियाली भी हो पाएगी जिससे पर्यावरण भी सुरक्षित रह पाएगा  और बीमारियां भी कम हो पाएगी|

Vriksh Sampada Yojana के लिए पात्रता व ज़रूरी दस्तावेज

  • योजना में लाभ लेना वाला लाभार्थी छत्तीसगढ़ का मूलनिवासी होना अनिवार्य  है |
  • लाभार्थी की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी भी अनिवार्य है |
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी वर्ग के नागरिक पात्र होंगे।
  • जमीनी दस्तावेज
  • स्थाई प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर

Mukhyamantri Vriksh Sampada Yojana के लिए आवेदन कैसे करें?

  • यदि आप मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना में आवेदन करना चाहते है तो पहले आपको अपने पास के वन विभाग कार्यालय में जाना है |
  • आपको संबंधित अधिकारी से आवेदन फॉर्म प्राप्त करना है|
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यान पूर्वक दर्ज करना है |
  • जानकारी दर्ज करने के बाद आपको मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को फॉर्म के साथ संलग्न करना है |
  • प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद आपको यह आवेदन फॉर्म वापस वहीं जमा कर देना होगा जहां से आपने प्राप्त किया था।
  • इस प्रकार आप मुख्यमंत्री वृक्ष संपदा योजना में आवेदन कर पायगे |
Updated: December 29, 2022 — 6:58 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *