आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल – atmanirbhar.haryana.gov.in Online Registration

दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल के बारे में और साथ ही साथ हम आपको बताएंगे कि इस पोर्टल पर हम ऑनलाइन अप्लाई कैसे कर सकते हैं, इसमें आवेदन की पात्रता क्या है अथवा इसके लाभ क्या है। आपको बता दें कि हरियाणा प्रदेश के मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल को शुरू किया है और इस पोर्टल के माध्यम से अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए या अपना व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए लोग आसानी से बिना किसी कोलेटरल लोन हासिल कर सकते हैं। तो चलिए दोस्तों आपको बताते आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल की संपूर्ण जानकारी जो निम्नलिखित हैं

आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल क्या है?

आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के व्यक्ति जिनकी परिवारिक आए ₹18000 प्रतिमाह है और शहरी व्यक्ति जिनके परिवारिक आए ₹24000 प्रतिमाह है उनको बिना कोलेटरल लोन दिया जाएगा। और इस पोर्टल के माध्यम से कोई भी व्यक्ति अगर अपना काम धंधा शुरू करना चाहता है या फिर अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता है तो उसे भी ₹50000 तक का लोन बिना कॉलेटरल के दिया जाएगा। आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल के तहत तीन प्रकार के लोन दिए जाते हैं पहला है डिफरेशियल रेट ऑफ इंटरेस्ट लोन योजना दूसरा है शिशु लोन मुद्रा योजना और तीसरा है शिक्षा लोन।

दोस्तों आपको बता दें कि इस पोर्टल के तहत हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा घोषणा की गई थी कि जिन भी छात्रों ने एक जनवरी 2015 से पहले लोन लिया उनके अप्रैल 2020 से लेकर जून 2020 तक के लोन के ब्याज का वहन सरकार द्वारा ही किया जाएगा।

आत्मनिर्भर पोर्टल की शुरुआत

दोस्तों आपको बता दें कि आत्मनिर्भर पोर्टल हमारे देश के प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए शुरू किया गया। इस पोर्टल के तहत लोगों को 20 लाख करोड़ रुपए के पैकेज देने का ऐलान किया गया था। हर राज्य इस इस पोर्टल का इस्तेमाल करना चाहता है और हरियाणा ऐसा राज्य है जिसने सबसे पहले इस पैकेज की ओर कदम बढ़ा दिया है

हरियाणा आत्मनिर्भर पोर्टल हाईलाइट

योजना का नामहरियाणा आत्मनिर्भर पोर्टल
किसके द्वारा लॉन्च किया गयाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
किसके द्वारा शुरू की गईहरियाणा के मुख्यमंत्री द्वारा
उद्देश्यलोगों को लोन प्रदान करना बिना कोलेटरल के
अधिकारिक वेबसाइटhttp://atmanirbhar.haryana.gov.in/frontend/web

पोर्टल का उद्देश्य(Overview)

इस पोर्टल को प्रधानमंत्री द्वारा अधिक उद्देश्यों के लिए बनाया गया है आइए जानते हैं उनमें से कुछ निम्नलिखित उद्देश्यों के बारे में

  • इसका मुख्य उद्देश्य है कि हर राज्य के लोगों को आत्मनिर्भर बनाया जाए।
  • और लोग अधिक से अधिक इस पोर्टल का लाभ उठा सकें
  • हरियाणा राज्य के लोग खुद का व्यापार शुरू करने के लिए बैंकों से आर्थिक सहायता पा सके
  • इसका मुख्य उद्देश्य है कि लोगों को पैसा जमा करने या विड्रोल करने के लिए घंटों तक बैंक की लाइनों में ना लगना पढ़े।
  • इस पोर्टल का उद्देश्य है कि जरूरतमंद लोगों को आसानी से लोन प्रदान किया जाए।

आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल के लाभ क्या है

  • इसका मुख्य लाभ है कि जिन छात्रों ने साल 2015 के जनवरी को लोन लिया है उनका अप्रैल 2020 से लेकर जून 2020 का बिहार सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • जरूरतमंद लोगों को बिना कोलेटरल ही लोन प्रदान किया जाएगा।
  • जिन लोगों को खुद का कारोबार शुरू करना है या आगे बढ़ाना है उनको ₹50000 तक का लोन प्रदान किया जाएगा।
  • लोन का 2% ब्याज सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • इस पोर्टल के माध्यम से लोग पोस्टल बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे

हरियाणा आत्मनिर्भर पोर्टल मैं आवेदन की पात्रता 

हरियाणा परिवार पहचान पत्र

डीआरआई लोन की पात्रता क्या है
  • आवेदक को हरियाणा का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदन के लिए ग्रामीण क्षेत्र की पारिवारिक आय ₹18000 प्रति माह होनी चाहिए और शहरी क्षेत्र के परिवारिक आय 24000 प्रति वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक को अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति वर्ग का होना चाहिए।
  • आवेदक पहले के लिए गए किसी लोन का डिफाल्टर नहीं होना चाहिए।
  • अभी तक किसी भी भूमि का मालिक नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक के पास किसी दूसरे वित्त का स्रोत नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक के पास किसी भी दूसरी योजना से जुड़ी कोई सहायता नहीं होनी चाहिए।
शिशु मुद्रा लोन की पात्रता क्या है
  • आवेदक को हरियाणा का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है
  • आवेदक पहले लिए गए किसी लोन का डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए
  • आय सृजन के उद्देश्य से विनिर्माण व्यापार और सेवाओं की गतिविधियों में लगे गैर कृषि उद्यम पात्र होंगे
  • आवेदक व्यक्तिगत स्वामित्व भागीदारी फर्म समिति दायित्व भागीदारी सर्वजनिक लिमिटेड कंपनी का इकाई हो सकता है
शिक्षा लोन के लिए क्या पात्रता है
  • आवेदक को हरियाणा का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • जो छात्र कोरोनावायरस के कारण अपने लोन की किस्त नहीं चुका पाए यह वह इस योजना में आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदक पहले लिए गए लोन का डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए।

Mera Pani meri Virasat scheme

पंजीकरण के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • डेट ऑफ बर्थ सर्टिफिकेट
  • बैंक पासबुक 

आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल पंजीकरण प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक उम्मीदवार आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल के माध्यम से लोन लेना चाहते हैं तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा

  • सबसे पहले आपको आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जो है http://atmanirbhar.haryana.gov.in/frontend/web/ 
  • ऑफिशल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा यहां आपको विभिन्न प्रकार के विकल्प दिखाई देंगे
  • आपको अपनी आवश्यकता के अनुसार विकल्प का चयन करना है और अगर आप लोन लेना चाहते हैं तो आपको bank loan के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक होम पेज खुल कर आएगा यहां आपको कुछ ऑप्शन दिखाई देंगे।
  • इन ऑप्शंस में से आपको जिस तरह का लोन लेना है उस पर क्लिक करना है।
  • लोन का प्रकार चुनने के बाद आपके सामने आगे कि प्रक्रिया आएगी आपको इस प्रक्रिया को फॉलो करना है।
  • इस तरह से आप आसानी से लोन पा सकते हैं।

Conclusion

प्रिय दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे आर्टिकल के माध्यम से समझ आ गया होगा कि आत्मनिर्भर हरियाणा पोर्टल क्या है अथवा इसमें आवेदन की प्रक्रिया क्या है आगे भी इसी तरह आपको अपने आर्टिकल के माध्यम और योजनाओं के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते रहेंगे| अगर आपको कोई भी कठिनाई आए तो आप हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है

Updated: August 30, 2020 — 6:50 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *