बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2022: आवेदन फॉर्म | Beti Bachao Beti Padhao Yojana

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना ऑनलाइन आवेदन करें, लाभ तथा पात्रता जानें | Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2022 Online Apply & Application PDF Form Download | BBBP Scheme Benefits

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के माध्यम देश की बेटियों के लिए हर वह कोशिश हो रही है जिससे उन्हें स्वयं से आत्मनिर्भर और मजबूत बनाया जा सके बेटियों का भविष्य उज्जवल बनाने के लिए उन्हें बचाने के लिए अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए अलग-अलग प्रकार की योजनाओं का शुभारंभ सरकार कर रही है ऐसी ही एक योजना की शुरुआत हमारे प्रधानमंत्री के माध्यम की गई है जिसका नाम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना है इस योजना को 22 जनवरी 2015 में पानीपत हरियाणा से शुरू किया गया था यह बेटियों के लिए चलाई जा रही है योजना के अंतर्गत माता-पिता को अपनी बेटी का खाता किसी राष्ट्रीय बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवाना पड़ेगा यदि आप भी Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2022 का आवेदन करना चाहते हैं इससे मिलने वाला फायदा प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana 2022

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत बेटी का अकाउंट माता-पिता को खुलवाना पड़ेगा इसमें जब भी आवेदक अपनी बेटी का अकाउंट खुलवाएंगे तब से लेकर 14 वर्ष की आयु तक खाते में निर्धारित राशि आवेदक को जमा करनी होगी और इसके अलावा आवेदक बेटी के जन्म से लेकर 10 वर्ष की आयु तक भी खाता खुलवा सकते हैं इस योजना को शुरू करके बच्चियों का सुनहरा भविष्य सुरक्षित किया जाएगा यह योजना बच्चे और माता-पिता के लिए बहुत ही लाभदायक है इस योजना के तहत आवेदक बेटी के 18 वर्ष पूरे होने के बाद धनराशि का 50 फ़ीसदी ही खाते से निकाल सकते हैं और जब बेटी की उम्र 21 वर्ष पूरी हो जाएगी तब वह खाते में जमा पूरी राशि उसके विवाह व पढ़ाई के लिए निकाल सकते हैं।

आवेदक Beti Bachao Beti Padhao Yojana का आवेदन ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों द्वारा से कर सकते हैं यदि वह ऑनलाइन द्वारा से आवेदन करते हैं तो उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और अगर वह ऑफलाइन द्वारा से आवेदन करते हैं तो उन्हें संबंधित कार्यालय में जाकर फॉर्म दर्ज करना होगा।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2022 हाइलाइट्स

योजना का नामबेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना
किसके माध्यम से आरंभ की गईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के माध्यम
उद्देश्यलड़कियों के भविष्य को और ज्यादा सुरक्षित करना
लाभार्थीदेश की बेटियां
विभागमहिला एवं बाल विकास मंत्रालय
योजना शुरू करने की तारीख22 जनवरी 2015
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttps://wcd.nic.in/

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

बेटियों को सुकन्या समृद्धि योजना का भी मिलेगा फायदा

भारत सरकार ने देश की बेटियों के उज्जवल भविष्य के लिए Beti Bachao Beti Padhao Yojana की शुरुआत की है जिससे उन्हें आने वाले समय में किसी भी प्रकार की परेशानियों और मुसीबतों का सामना ना करना पड़े यह योजना के साथ-साथ बेटी को अब सुकन्या समृद्धि योजना का फायदा विवरण किया जाएगा जिससे उनका आने वाला समय और ज्यादा सुरक्षित बनेगा इस योजना के द्वारा से बेटियों के आने वाले जीवन में एक नया बदलाव आएगा भविष्य की राह आसान करने में यह योजना अपनी एक अहम भूमिका निभाएगी आर्थिक रुप से कमजोर श्रेणी में जन्मी बालिकाओं को यह योजना विशेष प्रकार से 21 साल की उम्र पूर्ण करने के पश्चात एक बेहतर राशि प्रदान करेगी एक परिवार में जन्मी ज्यादा से ज्यादा दो बालिकाएं सुकन्या समृद्धि योजना में अपना अकाउंट खुलवा सकती है।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana से जुड़ी आवश्यक जानकारी

दोस्तों जैसा कि आप सब जानते ही होंगे कि केंद्र सरकार हमारे देश की बेटियों का भविष्य ज्यादा अधिक बनाने की हर एक कोशिश कर रही है और इस कोशिश में हमारे भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने बहुत ही अहम भूमिका निभाई है जिससे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुआत हुई है यह योजना को लेकर कई नागरिक फ्रॉड कर रहे हैं लोगों को फर्जी फॉर्म देकर उनसे पैसे हतिया रहे हैं महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के माध्यम से दिए गए आदेशों में कहा गया है कि देश के लोग इन फ्रॉड करने वाले नागरिकों से सावधान होकर रहे तथा योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर ही आवेदन करें तथा अन्य किसी वेबसाइट या संस्थान आदि पर जाने से बचे।

योजना के अंतर्गत जमा की जाने वाली धनराशि और वापस मिलने वाली राशि

  • यदि आप बेटी के बैंक में हर महीने 1000 रुपये की राशि जमा करवाते हैं।
  • तो वर्ष में सीधे 12000 रुपये जमा करते हैं।
  • तो बेटी के 14 वर्ष पूरे होने पर 1,68,000 रुपये की राशि आपकी बेटी के खाते में जमा हो जाएंगे।
  • यदि आप बेटी के 18 वर्ष पूरे होने के पश्चात राशि निकालना चाहते हैं।
  • तो आप सिर्फ 50 फीसदी ही निकाल सकते हैं।
  • बाकी 50 फीसदी राशि बेटी की शादी के वक्त ही निकाल सकते हैं।
  • और अगर आप 21 वर्ष पूरे होने के पश्चात यह धनराशि निकालते हैं।
  • तो आपको कुल 6,07,128 रुपये की धनराशि विवरण की जाएगी।
  • अगर आप बैंक में हर वर्ष 1.5 लाख रुपये जमा करते हैं।
  • तो 14 वर्ष पूरे होने पर आपकी बेटी के खाते में 21 लाख रुपये जमा हो जाएंगे।
  • खाते के मैच्योरिटी रेट पूरे होने पर बेटी को 72 लाख रुपये प्रदान किए जाएंगे।

भाग्य लक्ष्मी योजना

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का उद्देश्य (Objective)

Beti Bachao Beti Padhao Yojana को आरंभ करने का प्रमुख उद्देश्य यही है कि देश में बेटियों को बचाना क्योंकि भारत देश मे कई नागरिक बेटियों को बोझ समझते हैं तथा उनकी भ्रूण हत्या करवा देते हैं या कई जगह बेटियों का बाल विवाह तक करवा देते हैं जिसकी वजह से उन्हें बद से बदतर जिंदगी जीनी पड़ती है और बहुत सी जगह पर मां बाप कितने गरीब होते हैं कि वह अपनी बच्चियों को पढ़ा भी नहीं पाते ना उनकी शादी के लिए पैसा इकट्ठा कर पाते हैं इन्हीं परेशानियों और मुसीबतों को देखते हुए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को शुरू किया गया है जिसके द्वारा से उन्हें शिक्षा प्रदान की जा सके तथा उनका भविष्य सुधारा जा सके और देश में भ्रूण हत्याऐं कम हो तथा लड़का लड़की दोनों को एक बराबर समान मिल सके।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana Benefits (लाभ)

  • बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के द्वारा से देश में बेटियों की मृत्यु दर कम होगी।
  • तथा लोग शिक्षा क्षेत्र में बच्चियों को प्रोत्साहित करेंगे।
  • भारत देश में भ्रूण हत्याऐं नहीं होगी।
  • कोई भी माता-पिता अपनी बेटी को बोझ नहीं समझेंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत बेटियों को उनके विवाह हेतु या पढ़ाई हेतु उनकी जमा की हुई राशि निर्धारित वक्त में विवरण की जाएगी।
  • भारत देश में लड़का और लड़की को एक समान समझा जाएगा।
  • और लड़कियों को लेकर भेदभाव नहीं किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत बेटी के माता पिता उसके जन्म से लेकर 10 वर्ष तक खाता खुलवा सकते हैं।
  • लाभार्थी आसानी से योजना का आवेदन करके इसका फायदा प्राप्त कर सकते हैं।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना पात्रता (Eligibility)

यदि आप भी योजना का आवेदन करना चाहते हैं तो आपको इसकी पात्रता के बारे में जानकारी पता होनी चाहिए जिससे आप आसानी से आवेदन कर सकते हैं पात्रता जानने के लिए नीचे की ओर दिए गए स्टेप्स को स्टेप्स बाय फॉलो करें।

  • आवेदक भारत देश के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • योजना के तहत आवेदन करने के लिए बेटी की आयु 10 वर्ष होनी चाहिए।
  • बेटी के नाम से सुकन्या समृद्धि अकाउंट खुला होना आवश्यक है।
  • आवेदन करने के लिए आवेदक के पास सभी दस्तावेज उपलब्ध होने जरुरी है।

Women Helpline Number

Important Documents (आवश्यक दस्तावेज)

  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • बेटी का आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
  • माता-पिता का पहचान पत्र
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2022 में आवेदन कैसे करें?

देश के जो इच्छुक लाभार्थी फायदा पाने वाले इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो वह नीचे की ओर दिए गए स्टेप्स को स्टेप्स बाय फॉलो करें।

  • सबसे पहले आवेदक को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज खुल जाएगा।
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2022 में आवेदन करें
  • होम पेज पर आपको Women Empowerment Scheme का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Women Empowerment Scheme
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको Beti Bachao Beti Padhao Yojana के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपके सामने कंप्यूटर स्क्रीन पर नया पेज खुल जाएगा।
  • यहां पर आप योजना से जुड़ी सभी जानकारी दिशा-निर्देशों को पढ़ सकते हैं।
  • और योजना का आवेदन कर सकते हैं।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana में ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

  • योजना का आवेदन करने के लिए आवेदक को निजी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाना होगा।
  • आपको अपने साथ आवश्यक दस्तावेज लेकर जाना होगा।
  • अब आप यहां पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का आवेदन फॉर्म ले लेंगे।
  • आवेदन फॉर्म लेने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों को अटैच कर देना होगा।
  • अब आप इसे बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करवा दें।
  • इस प्रकार से आप की आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Important Downloads

Quick Links

Leave a Reply

Your email address will not be published.